तार टूटने से 35 गांवों की बिजली गुल

---Ads----

चिरैयाकोट कस्बे में पिछले 15 दिन में तीसरी बार जर्जर एलटी तार टूटने से कस्बे सहित 35 गांवों की बिजली गुल हो गई। शिकायत के बाद भी समस्सा का समाधान नहीं हो सका। उधर बिजली गुल होने का असर पेयजलापूर्ति पर भी पड़ा।

चिरैयाकोट उपकेंद्र से नगर में बिजली आपूर्ति के लिए बिछाए गए तारों को कई सालों से बदले न जाने के चलते यह जर्जर हो चुके है। थोड़ा सा लोड या तेज हवा से तार टूटकर गिर रहे। जिससे आए दिन बिजली आपूर्ति प्रभावित हो रही है। बुधवार की शाम 4 बजे आंधी के चलते उपकेंद्र से निकले मेन एलटी तार पर करमी गांव के पास बबूल का पेड़ गिर गया।

तार टूटने से पूरे नगर सहित यूसुफाबाद, जनीदुहान, फतेहपुर, सिरसा, मंडूसरा सहित 35 गांवों में आपूर्ति बाधित हो गई। बुधवार का टूटा तार गुरुवार तक भी ठीक नहीं कराया गया। जिससे लोग परेशान रहे। ऐसे ही 28 जून और 4 जुलाई को भी तार टूटने के चलते 8 घंटे बिजली सप्लाई बंद हो गई थी।

24 घंटे से ज्यादा समय से बिजली गुल होने से लोगों को जहां रात में अंधेरे और भीषण गर्मी में परेशान रहे, वहीं सुबह उन्हें पेयजल संकट से जूझना पड़ा। बिजली कटने के बाद कई घंटों तक बिजली न आने पर उपभोक्ता कई बार स्थानीय विभागीय अधिकारियों से फोन पर संपर्क करते रहे लेकिन उन्होंने फोन नहीं उठाया।

ग्रामीण राकेश वर्मा, अशोक सेठ, रमेश मौर्य, दिनेशचंद्र गुप्ता आदि का कहना हैं कि पिछले 15 दिनों में बिजली का तार टूटने का तीसरा मामला हैं। कई बार जर्जर तारों को बदलने के लिए विभाग के अधिकारियों को मौखिक और लिखित शिकायत दर्ज कराने के बाद भी जर्जर तारों को बदला नहीं जा रहा हैं। इस बावत एसडीओ जितेंद्र कुमार का कहना हैं कि पेड़ टूटने से बिजली आपूर्ति ठप हैं। पेड़ को हटाने औरक्षतिग्रस्त तार को जोड़कर आपूर्ति शुरू कराने का प्रयास किया जा रहा है। जैसे ही काम पूरा होगा आपूर्ति शुरू हो जाएगी।

धू-धू कर जला ट्रांसफार्मर
दुबारी। कस्बे के कालीचौरा के पास लगा 250 केवीए का ट्रांसफार्मर बुधवार को ओवरलोड के चलते जल गया। ट्रांसफार्मर से आग निकलने देखकर लोगों ने फायर बिग्रेड और बिजली विभाग के अधिकारियों को सूचना दी। जहां 30 मिनट बाद पहुंचे फायरबिग्रेड ने आग पर काबू पाया। ट्रांसफार्मर जलने से बुधवार की शाम से गुल बिजली गुरुवार की शाम तक बहाल नहीं हो सकी। इससे दुबारी कस्बे के लोगों को परेशानियों का सामना करना पड़ा। इस बावत जेई अच्छेलाल का कहना हैं कि फुंका ट्रांसफार्मर को जल्द बदलकर आपूर्ति शुरू करा दी जाएगी।

---Ads----

Comments