रक्षा बंधन शायरी (Raksha Bandhan Shayari)

---Ads----

Raksha Bandhan Shayari (रक्षा बंधन शायरी) – रक्षाबंधन एक हिन्दू त्यौहार हैं इस त्यौहार में बहन अपने भाई के हाथों पर राखी बाधकर अपने प्यार को जताती हैं और भाई अपने बहन की रक्षा करने का वचन देता हैं और उसके साथ ही कोई न कोई उपहार (रूपये) भी देते हैं. भाई-बहन के प्यार का यह एक अनोखा बंधन होता हैं.

लड़ना, झगड़ना और मना लेना यही है भाई-बहन का प्यार,
इसी प्यार को बढ़ाने आ गया हैं रक्षा बंधन का त्यौहार.

राखी की ढेर सारी शुभ कामनाएँ


बहनों को भाइयों का साथ मुबारक हो,
भाइयों की कलाइयों को बहनों का प्यार मुबारक हो,
रहे ये सुख हमेशा आपकी जिन्दगीं में,
आप सबको राखी का पावन त्यौहार मुबारक हो.

रक्षा बंधन मुबारक हो


बहन का प्यार किसी दुआ से कम नही होता,
दूर रहकर भी, भाई-बहन का प्यार कम नही होता.

राखी की ढेर सारी शुभ कामनाएँ


बहन चाहे सिर्फ प्यार दुलार,
नही मांगती बड़े उपहार,
रिश्ता बना रहे सदियों तक,
मिले भाई को खुशियाँ हज़ार.
राखी की ढेर सारी शुभ कामनाएँ…


दोस्त तुम्हारे ख़ातिर गलियाँ फूलो से सजा रखी हैं,
हर मोड़ पर ख़ूबसूरत लड़कियाँ बैठा रखी हैं,
जाने किस गली से आप गुजरेंगे इसलिए,
हर लड़की के हाथ में राखी थमा रखी हैं.
रक्षा बंधन की शुभ कामनाएँ…


हर इलजाम का मुजरिम वो हमें बना जाती हैं,
हर खता की सजा बड़े प्यार से हमे बता जाती हैं,
और कमबख्त हम हर बार चुप रह जाते हैं,
क्योकि वो हर बार “रक्षा बंधन” का डर दिखा जाती हैं.
शुभ रक्षा बंधन


रब करे तुझे खुशियाँ आपर मिलें,
तेरी गर्लफ्रेंड बाँध दे तुझको राखी,
तुझे एक बहन का प्यार,
और मुझे भी अपना पुराना यार मिले.
हैप्पी रक्षा बंधन…


बहन ने भाई की कलाई पर प्यार बाँधा हैं,
तुम ख़ुश रहो हमेशा यही सौगात माँगा हैं.
रक्षा बंधन की ढेर सारी शुभकामनाएँ


कच्चे धागों से बनी पक्की डोर हैं राखी,
प्यार और मीठी शरारतों की होड़ हैं राखी,
भाई की लम्बी उम्र की दुआ हैं राखी,
बहन के प्यार का पवित्र धुआं हैं राखी.
हैप्पी रक्षाबंधन


बहना ने भाई की कलाई से प्यार बाँधा हैं,
प्यार के दो तार से खुशियों का संसार बाँधा हैं,

हैप्पी रक्षाबंधन


रिश्तो की धूम में हैं यह सबसे अनोखा सम्बन्ध,
भाई बहन के रिश्ते को जो बनाये अनूठा बंधन,
हैं वो निराला त्यौहार रक्षाबंधन,
आइये मनाये और करे सभी का अभिनंदन.
रक्षाबंधन की ढेर सारी शुभ कामनाएँ


रक्षाबंधन का त्यौहार हैं,
हर तरफ ख़ुशियों की बौछार हैं,
बंधा एक धागे में,
भाई बहन का प्यार हैं.
शुभ रक्षाबंधन


फूलों का तारों का सबका कहना हैं,
एक हजारो में मेरी बहना हैं,
रक्षा बंधन की हार्दिक शुभ कामनाएँ


याद हैं हमे हमारा वो बचपन,
वो लड़ना, वो झगड़ना और वो मना लेना,
यही होता है भाई-बहन का प्यार और
इस प्यार को बढ़ाने आ रहा हैं
रक्षाबंधन का त्यौहार.
रक्षा बंधन की हार्दिक बधाई.


हमने पटाई एक लड़की तो सोचा हमारी लाटरी निकल गयी,
डेट पर बुलाया मिलने को तो हाय रे मेरी फूटी मिस्म्त
वो राखी बाँध के चली गयी.
शुभ राखी और हैप्पी राखी.


रिश्ता हैं जन्मों का हमारा,
भरोसे का और प्यार भरा,
चलो इसे बांधे भैया राखी के अटूट बंधन में.
रक्षाबंधन की शुभ कामनाएँ


 

---Ads----

Comments