सुधार के बाद पटरी पर आई टीईटी की वेबसाइट

---Ads----

उत्तर प्रदेश शिक्षक पात्रता परीक्षा (यूपी टीईटी) की वेबसाइट में लगातार आठ दिन परेशानी के बाद आखिरकार नौवें दिन अभ्यर्थियों ने थोड़ी राहत की सांस ली। एनआईसी और यूपी डेस्को की टीम ने मिलकर मंगलवार सुबह 11 बजे से शाम छह बजे तक टीईटी की वेबसाइट को बंद रखकर इसमें सुधार किया। इंजीनियरों ने सर्वर को चार भागों में बांटकर वेबसाइट चलाने की कोशिश की तो वह सफल रही और शाम छह बजे से आठ बजे के बीच एक लाख से अधिक अभ्यर्थियों ने अपना ऑनलाइन पंजीकरण करवा लिया। पहले से पंजीकृत बड़ी संख्या में दावेदारों ने अपनी फीस जमा करने में सफलता पाई।

सचिव परीक्षा नियामक के दावे के बाद मंगलवार दिन भर वेबसाइट नहीं चली। लेकिन शाम को वेबसाइट ने रुक-रुककर काम करना शुरू किया तो अभ्यर्थियों ने आना डाटा भरना शुरू कर दिया। लेकिन जैसे ही अभ्यर्थियों ने अपना विवरण भरके आवेदन समिट किया, वेबसाइट में एरर आने लगा। हालांकि यह प्रक्रिया धीरे-धीरे कम होने लगी और अभ्यर्थी अपना आवेदन एरर को सुधार कर भरने लगे। सचिव परीक्षा नियामक प्राधिकारी अनिल भूषण चतुर्वेदी ने बताया कि अपर मुख्य सचिव के निर्देश के बाद एनआईसी और यूपी डेस्को की टीम ने मिलकर वेबसाइट की गड़बड़ी दूर कर दी।

वेबसाइट खुलने का दिन भर किया इंतजार
टीईटी की वेबसाइट पर दिन में सूचना आ रही थी कि इसमें सुधार किया जा रहा है, इसे बंद करके अपग्रेड किया जाएगा। वेबसाइट पर यह सूचना थी कि शाम छह बजे से यह काम करना शुरू कर देगी। शाम छह बजे जैसे ही वेबसाइट खुली, अभ्यर्थियों ने बड़े उत्साह के साथ जैसे ही अपना विवरण भरा वेबसाइट में परेशानी शुरू हो गई, कुछ अभ्यर्थियों ने लगातार प्रयास के बाद अपने आवेदन करने में सफलता पाई। देर रात तक अभ्यर्थी साइबर कैफे पर कतार में लग कर अपनी बारी का इंतजार करते रहे। आवेदन करने वालों ने बताया कि विवरण भरने के बाद फाइनल समिशन के दौरान अभी वेबसाइट बंद हो रही है। दो-तीन प्रयास के बाद विवरण भरा जा रहा है।

इलाहाबाद केंद्र चुनने पर वेबसाइट बंद
शाम छह बजे दोबारा शुरू हुई वेबसाइट से किसी प्रकार आवेदन कर पा रहे अभ्यर्थियों पूनम यादव, रेखा श्रीवास्तव आदि ने बताया कि आवेदन में जैसे से केंद्र का विकल्प इलाहाबाद भरने के बाद समिट किया जाता है, वेबसाइट पर एरर आ जा रहा है। उनके साथ ही साइबर कैफे पर आवेदन को पहुंचे दूसरे अभ्यर्थियों ने प्रदेश के दूसरे जिले को चुना तो उनका आवेदन स्वीकार हो गया।

अंतिम बढ़ाने पर फैसला नहीं
लगातार आठ दिन वेबसाइट बंद रहने के बाद सचिव परीक्षा नियामक प्राधिकारी अनिल भूषण चतुर्वेदी की ओर से शासन के पास टीईटी के आवेदन की अंतिम तिथि एक सप्ताह बढ़ाने की सिफारिश की गई थी, लेकिन मंगलवार को गांधी जयंती होने के चलते शासन की ओर से अंतिम तिथि बढ़ाने पर कोई फैसला नहीं हो सका। अब इस पर बुधवार को फैसला होने की उम्मीद है।

---Ads----

Comments